15 जून से धनबाद-चंद्रपुरा रेललाइन बंद, 19 ट्रेनों का संचालन ठप

रेल मंत्रालय ने नई दिल्ली और रांची के रास्ते में धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन पर 15 जून से ट्रेनों का परिचालन बंद करने का ऐलान किया है. रेलवे बोर्ड के मेंबर ट्रैफिक मुहम्मद जमशेद ने इस बात की घोषणा की. इससे तकरीबन सवा करोड़ लोगों के आवाजाही पर असर पड़ेगा. डायरेक्टर जनरल ऑफ माइंस सेफ्टी यानी डीजीएमएस की एक रिपोर्ट के मुताबिक धनबाद और चंद्रपुरा के बीच बिछी रेलवे लाइन के नीचे कोयले में आग फैल चुकी है. यह आग इस रेलमार्ग पर गाड़ियों के परिचालन के लिए खतरनाक है. पिछले दिनों पीएमओ के दखल पर आयोजित बैठक में इसके निर्देश दिए गए थे.

13 स्टेशनों के बीच ठप होगा परिचालन
डायरेक्टर जनरल ऑफ माइंस सेफ्टी की रिपोर्ट के मुताबिक झरिया कोलफील्ड की आग गोविंदपुर रेलवे साइडिंग से महज 22 फीट की दूरी तक पहुंच चुकी है. रेलवे को मिली इस रिपोर्ट के मुताबिक बंसझोरा (Bansjora station) रेलवे स्टेशन के पास कोयले में लगी आग रेलवे लाइन के आर-पार फैल चुकी है. इसी तरह सिजुआ और कतरासगढ़ (Sijua-Katrasgarh) के बीच रेलवे लाइन के नीचे कोयले की आग पहुंच गई है. कतरासगढ़ और सोनारडीह के बीच रेलवे लाइऩ के नीचे कोयले की आग इधर से उधर जा चुकी है. कोयले में फैली इस आग के चलते रेलवे लाइन पर चल रही गाड़ियों के लिए खतरा पैदा हो गया है. इस रेललाइन पर शताब्दी एक्सप्रेस, मौर्य एक्सप्रेस, कामाख्या एक्सप्रेस, धनबाद -इंटरसिटी एक्सप्रेस समेत कुल 26 पैसेंजर ट्रेनें गुजरती हैं. धनबाद जिले के कई छोटे कस्बे गोधर, केंदुआ, कतरास, फुलवारटांड जैसे छोटे-बड़े 13 स्टेशन इस रेल रुट में पड़ते हैं. रेल मार्ग के दोनों ओर कोयला खदान के अलावा बीसीसीएल की अवासीय कॉलोनियां भी हैं. जिसके कारण सरकार कोई खतरा मोल लेना नहीं चाहती. इसलिए ट्रेनों का परिचालन बंद करने का फैसला किया गया है.

रेलवे को होगा 2500 करोड़ का सलाना नुकसान
रेलवे बोर्ड के मेंबर ट्रैफिक मुहम्मद जमशेद के मुताबिक धनबाद-चंद्रपुरा रेललाइन बंद होने से रेलवे को सालाना 250 करोड़ रुपये का नुकसान पैसैंजर किराए में होगा. इसके अलावा मालढुलाई में रेलवे को 2500 करोड़ रुपए का सालाना नुकसान उठाना पड़ेगा. रेलवे कोयले की ढुलाई के लिए अलग कोल साइडिंग का इस्तेमाल करके अपने मालढुलाई नुकसान को तकरीबन 1000 करोड़ रुपए तक कम कर सकती है. इस तरह से रेलवे को इस लाइन के बंद होने से कुल 1750 करोड़ रुपये का सालाना नुकसान उठाना पड़ेगा. मेंबर ट्रैफिक ने कहा कि कोयले की सप्लाई पर निश्चित तौर पर फरक पड़ेगा लेकिन इससे बिजली उत्पादन पर कोई खास असर नहीं पड़ेगा.

धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन शिफ्ट करने पर सहमति
22 मई को धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन पर अंतिम फैसला लेने के लिए केंद्र सरकार ने आखिरी बैठक बुलाई थी. प्रधानमंत्री कार्यालय में प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव एन मिश्र की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन मुद्दे पर विस्तार से चर्चा हुई. इस बैठक में कोयला सचिव से लेकर झारखंड की मुख्य सचिव राजबाला वर्मा, डीजीएमएस के महानिदेशक पी के सरकार, डीडीजी संजीवन राय, रेलवे बोर्ड के चेयरमैन सहित कई अधिकारी मौजूद रहें. इस बैठक में धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन शिफ्ट करने के डीजीएमएस के प्रस्ताव पर सभी ने सहमति जतायी थी.

धीमी गति से चलाती थी ट्रेनें
झरिया कोल फील्ड में लगी आग के चलते बीते कई सालो से धनबाद-चंद्रपुरा रेललाइन पर 30 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेनें चलाई जाती रही है. धीमी गति ट्रेनें इस लिए चलाई जाती थीं क्योंकि आग के चलते पटरी धंसने की आशंका हमेशा बनी रहती थी. झरिया के कोयला खदानों में आग लगे हुए 100 साल से ज्यादा बीत चुके हैं लेकिन जमीन के नीचे लगी इस आग पर काबू पाने के सभी उपाय अभी तक नाकाफी साबित हुए हैं.

रेलवे ने इस रूट से होकर गुजरने वाली 7 जोड़ी ट्रेनों को दूसरे रूट्स पर डायवर्ट किया है।

12019/20 Shatabdi Express Howrah Ranchi को Dhanbad-Gomoh-Chandrapura होकर चलाया जाएगा
15028/27 Maurya Express Gorakhpur Hatia Daily को Dhanbad-Gomoh-Chandrapura होकर चलाया जाएगा
13351/52 Dhanbad -Alleppey Express Dhanbad Alleppey Daily को Dhanbad-Gomoh-Chandrapura होकर चलाया जाएगा
11448/47 Shaktipunj Express Howrah Jabalpur Daily को Dhanbad-Gomoh-Chandrapura होकर चलाया जाएगा
18621/22 Patliputra Express Patna Hatia Daily को Chittranjan-Asansol (Reversal)- Jaichandipahar- Bhojudiah-Talgharia-Bokaro होकर चलाया जाएगा
18620/19 Dumka-Ranchi Intercity Dumka Ranchi Daily को Chittranjan-Asansol (Reversal)- Jaichandipahar- Bhojudiah-Talgharia-Bokaro होकर चलाया जाएगा
13303/04 Dhanbad-Ranchi Intercity Dhanbad Ranchi Daily को Chittranjan-Asansol (Reversal)- Jaichandipahar- Bhojudiah-Talgharia-Bokaro होकर चलाया जाएगा

धनबाद-चंद्रपुरा रेललाइन से होकर गुजरने वाली 13 जोड़ी लंबी दूरी की एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन रेलवे ने बंद करने की घोषणा की है. ये ट्रेने हैं…

13403/04 NJP Ranchi VANANCHAL EXP Daily
18605/06 Jaynagar Ranchi RNC- JYG EXPRESS Tri weekly
18627/28 Ranchi Howrah RNC-HWH INTERCITY EXPRESS Tri weekly
12831/32 Dhanbad Bhuvneshwar GARIB RATH Tri weekly
18603/04 Ranchi Bhagalpur RNC-BGP EXPRESS Tri weekly
15661/62 Ranchi Kamakhya RNC-KYQ EXPRESS bi weekly
17007/08 Darbhanga Secunderabad DBG-SC EX bi weekly
18629/30 Ranchi NJP RNC NJP WEEKLY EXP weekly
17005/06 Hyderabad Raxaul HYB RXL EX weekly
13025/26 Bhopal Howrah BPL-HWH EX weekly
19413/14 Kolkata Ahmedabad KOAA- ADI EX weekly
19607/08 Kolkata Ajmer KOAA-ALL EX weekly
13425/26 Surat Malda ST-MLDT EX weekly

इसके अलावा धनबाद और चंद्रपुरा रेललाइन बंद होने की वजह से 6 जोड़ी पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन 15 जून से बंद करने का फैसला किया गया है। ये ट्रेनें हैं…

53341/42 MURI Dhanbad Muri-DHN Daily
68079/80 Chandrapura Bhojudih CRP-BJE Daily
58013/14 Bokaro Adra BKSC-CRP-ADA Daily
53335/36 Dhanbad Ranchi HTE-DHN Daily
53339/40 Chandrapura Dhanbad CRP-DHN six days in a week
68019/20 Jhargram Dhanbad Jhargram – DHN six days in a week

धनबाद-चंद्रपुरा के बीच 13 रेलवे स्टेशन और हॉल्ट हैं. इन स्टेशनों को जानेवाले लोगों को वैकल्पिक रास्ता चुनना पड़ेगा, जिससे उनकी परेशानी तो बढ़ेगी ही, यात्रा का समय भी बढ़ जायेगा और अतिरिक्त पैसे भी खर्च करने पड़ेंगे. नए रूट पर ट्रेनों का बोझ बढ़ने से रेलवे का टाइम-टेबल प्रभावित होगा. अब नई व्यवस्था के तहत कई ट्रेनें गोमो से होकर गुजरेंगी गोमो जंक्शन पर ट्रेनों का इंजन भी बदला जायेगा. गोमो में रेलवे के पास ज्यादा ट्रेनों को चलाने की क्षमता नहीं है जिसकी वजह से भारी संख्या में ट्रेनें और यात्री प्रभावित होंगे.

Source:http://aajtak.intoday.in

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered By Indic IME