तिहाड़ में बंद 82 साल के चौटाला ने First Divison से की 12वीं पास

टीचर भर्ती घोटाले में जेल में बंद हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश सिंह चौटाला अपने एक अनोखे कारनामे के कारण चर्चा में बने हुए हैं. 82 साल के चौटाला ने जेल में बंद रहते हुए 12वीं की परीक्षा प्रथम श्रेणी से पास की है. खबर है कि अब वह ग्रेजुएशन की तैयारी कर रहे हैं. आपको बता दें कि चौटाला अभी तिहाड़ जेल में बंद हैं और 10 साल की सजा काट रहे हैं.

अभय चौटाला ने बताया है कि आखिरी परीक्षा 23 अप्रैल को थी. उस समय वो पैरोल पर रिहा थे. चूंकि परीक्षा केंद्र जेल के अंदर था इसलिए उन्हें परीक्षा देने के लिए जेल में जाना पड़ा.” ओम प्रकाश चौटाला अपने पोते दुष्यंत सिंह चौटाला की शादी के लिए अप्रैल के दूसरे पखवाड़े में पैरोल पर थे. ओम प्रकाश चौटाला का पैरोल हाल ही में पांच मई को खत्म हुई थी.

शुरू हो गई ग्रेजुएशन की तैयारी
ओम प्रकाश सिंह चौटाला ने नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग से अपनी 12वीं की परीक्षा दी. गौरतलब है कि ओमप्रकाश चौटाला और उनके बेटे अजय को 16 जनवरी 2013 को जेबीटी शिक्षक भर्ती मामले में 10 साल कैद की सजा सुनाई गई थी. पिछले दिनों जमानत पर बाहर आए चौटाला ने बताया कि तिहाड़ में उनकी सुबह अखबार की खबरों पर चर्चा के साथ शुरू होती है, इसके बाद पढ़ाई-लिखाई और टीवी देखना रूटीन में शामिल है. पूर्व मुख्यमंत्री के पोते दिग्विजय सिंह ने बताया कि दादा ने स्नातक की किताबें भी मंगवा ली हैं.

आपको बता दें कि हरियाणा में पंचायती चुनाव के लिए शैक्षणिक योग्यता तय की हुई है. माना जा रहा है कि विधानसभा चुनाव में भी यह नियम लागू हो सकता है. शायद इसे देखते हुए चुनाव लड़ने के लिए चौटाला जेल में पढ़ाई कर रहे हैं.

देवीलाल चौटाला के बेटे ओमप्रकाश 5 बार हरियाणा के मुख्यमंत्री रह चुके हैं. उनके बेटे अजय चौटाला और अभय चौटाला हैं. ओम प्रकाश के पोते दुष्यंत चौटाला सांसद हैं, दुष्यंत की मां नैना चौटाला विधायक हैं.

Source: http://aajtak.intoday.in

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered By Indic IME