रावण की बहन सूपर्णखा आज भी जीवित है

श्रीलंका में एक महिला ने खुद को सूपर्णखा के अवतार होने का दावा किया है। इस महिला का नाम गंगा सुदर्शनी है।

सूपर्णखा के बारे में कहा जाता है कि रावण की मृत्यु के पश्चात वह वनवास चली गई थी और उसने तपस्या कर मुक्ति प्राप्त की थी। लेकिन इसके बाद उसका कही पर कोई उल्लेख नही है। लेकिन श्रीलंका में एक महिला ने खुद को सूपर्णखा के अवतार होने का दावा किया है। इस महिला का नाम गंगा सुदर्शनी है। इस महिला का दावा है कि उसके पास दिव्यशक्ति है जिससे उसे भविष्य में होने वाली घटनाओं का पूर्वाभास हो जाता है।

गंगा सुदर्शनी का का जन्म कोलंबो से करीब 200 किलोमीटर दूर स्थित गांव महियांग्ना में हुआ था। कहा जाता है कि गंगा सुदर्शनी के नाक पर चोट का निशान, कटे हुए कान जैसे रामायण में थे। यहां लोगों का प्रतिदिन दरबार लगता है और लोगों को इलाज भी होता है। लोगों का कहना है कि गंगा के पास आज भी वही प्राचीन दिव्यशक्तियां हैं। वह लोगों की बीमारियां भी हाथ लगाते ही सही भी कर देती है। वह लोगों के सामने ही बारिश करा देती है और बारिश रुकवा भी देती है। गंगा खुद को रावण की बहन सूर्पणखा का ही अवतार बताती हैं और इनके पास एक से एक बड़ी शक्तिशाली हस्तियां आशीर्वाद लेने आती है। श्रीलंका की गंगा सुदर्शनी को लोग रावण की बहन सूपर्णखा का दर्जा देते हैं। गंगा न केवल सूपर्णखा के वंश की है बल्कि सरकार द्वारा उन्हें बाकायदा पेंशन और तनख्वाह तक दी जाती है।

Sources: c.mp.ucweb.com

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered By Indic IME