हरियाणा के 16 जिलों में इंटरनेट बैन, दिल्ली में रेलवे के 12 स्टेशन बंद


पानीपत।आरक्षण समेत 7 मांगों को लेकर अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष यशपाल मलिक गुट के सोमवार को दिल्ली कूच के मद्देनजर हरियाणा में हाईअलर्ट कर दिया गया है। कई संवेदनशील जिलों में सेना भी बुला ली गई है, प्रदेश के 16 जिलों में इंटरनेट सेवाएं बंद कर धारा-144 लगा दी गई है। साथ ही दिल्ली में मेट्रो दिल्ली से बाहर नहीं जाएगी तो रेलवे के भी 12 स्टेशन आज रात से बंद रहेंगे। पहले जाट नेता कर रहे बैठक, 12 बजे सीएम से होगी बैठक…
– सरकार की कोशिश है कि ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को हाईवे या मुख्य मार्गों पर आने ही न दिया जाए। वहीं, मलिक गुट दिल्ली बाॅर्डर के 2-3 किमी क्षेत्र में ट्रांजिट कैंप बनाने की तैयारी में है। दूर-दराज से आकर प्रदर्शनकारी यहीं इकट्‌ठा होंगे।

– दिल्ली को 7 प्रमुख रास्तों से सोनीपत से नेशनल हाईवे, टिकरी बॉर्डर, गुड़गांव-फरीदाबाद, मुरादाबाद, मेरठ व लोनी और सहारनपुर की तरफ से घेरने की योजना है।

– वहीं सीएम मनोहर लाल खट्‌टर ने अपने लखनऊ समेत तमाम दौरे रद्द करके दिल्ली के हरियाणा भवन में जाट नेताओं को बातचीत के लिए आमंत्रित किया है।12 बजे जाट नेताओं के साथ बैठक होगी।

– इस दौरान सीएम के साथ केंद्रीय राज्य मंत्री पीपी चौधरी भी मौजूद रहेंगे। माना जा रहा है कि सभी मांगों पर अच्छे माहौल में बातचीत होगी, वहीं शुक्रवार को दिल्ली में प्रस्तावित संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस को लेकर भी सभी कन्फ्यूजन दूर होंगे।

– इससे पहले नांगलोई दिल्ली की जाट धर्मशाला में जाट नेताओं के बीच बैठक चल रही है, जिसके बाद यहां तय हुई बातचीत के बाद सीएम के साथ बैठक के लिए ये लोग रवाना होंगे।

इन जिलों में इंटरनेट ठप

हिसार, चरखी दादरी, रोहतक, झज्जर, भिवानी, कैथल, जींद और सोनीपत। पानीपत में नेट कभी भी बंद हो सकता है। हालांकि जिला प्रशासन ने अभी आदेश नहीं किया है।
धारा-144 : हिसार, रोहतक, जींद, झज्जर पानीपत, सोनीपत, कैथल व करनाल।

दिल्ली बॉर्डर पर कड़ी चौकसी तीन स्तर की सुरक्षा-व्यवस्था

दिल्ली पुलिस ने भी ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को रोकने के लिए सीमाओं पर त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था तैयार की है। एक लेयर में कुल 150 जवान होंगे। विशेष पुलिस आयुक्त दीपेंद्र पाठक ने बताया कि दिल्ली में धारा 144 लागू है। प्रदर्शनकारियों को राष्ट्रीय राजधानी में घुसने नहीं दिया जाएगा। सभी सीमाओं पर शनिवार रात से ही चौकसी बढ़ा दी गई है।

सेंट्रल दिल्ली के 12 स्टेशन बंद रहेंगे

– न्यूज एजेंसी ने DMRC के एक अफसर के हवाले से बताया कि दिल्ली पुलिस की अपील पर रविवार रात 11:30 बजे से मेट्रो सर्विस सिर्फ दिल्ली में ही रहेगी।
– वहीं सेंट्रल सेक्रेटेरियट, पटेल चौक और राजीव चौक समेत सेंट्रल दिल्ली के 12 स्टेशन रविवार रात 8 बजे से अगले ऑर्डर तक बंद रहेंगे।
– जाट आंदोलन के मद्देनजर लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति को बरकरार रखने के लिए यह फैसला किया गया है।
– इस इंटरिम अरेंजमेंट के तहत येलो लाइन पर गुड़गांव, ब्लू लाइन पर नोएडा, गाजियाबाद और वॉयलेट लाइन पर फरीदाबाद से मेट्रो ऑपरेशन बंद रहेगा।
– सेंट्रल दिल्ली के राजीव चौक, पटेल चौक, सेंट्रल सेक्रेटेरियट, उद्योग भवन, लोककल्याण मार्ग, जनपथ, मंडी हाउस, बाराखंभा रोड, आरके आश्रम मार्ग, प्रगति मैदान, खान मार्केट और शिवाजी स्टेडियम बंद रहेंगे। हालांकि इन स्टेशनों से इंटरचेंज फेसेलिटी बहाल रहेगी।

अब केंद्र से ही बात होगी, वो भी दिल्ली कूच के बाद: मलिक

हरियाणा सरकार से बात नहीं करेंगे। मुझे मुख्यमंत्री मनोहर लाल पर भरोसा नहीं। वार्ता में केंद्रीय मंत्रियों को शामिल करने पर ही बात होगी। पर 20 मार्च को दिल्ली कूच से पहले यह संभव नहीं लगता। प्रदेश सरकार राजनीति कर रही है। इसमें समाज के भी कुछ लोग शामिल हैं।
-यशपाल मलिक, अध्यक्ष, जाट आरक्षण संघर्ष समिति

पैरामिलिट्री की 125 कंपनियां तैनात, कानून नहीं तोड़ने देंगे
कानून-व्यवस्था के लिए प्रदेश में पैरामिलट्री की 125 कंपनी तैनात हैं। किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए सेना से भी मदद मांगी है। सैन्य अफसर तय करेंगे कि कितनी टुकड़ियां तैनात होंगी। किसी को भी कानून तोड़ने की इजाजत नहीं है। ऐसा करने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी।-रामनिवास, गृह सचिव

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered By Indic IME